अपने पाठकों को ब्रैंड के मत-प्रचारकों में कैसे बदलें

By on अप्रैल 10, 2017 in Sales and Marketing

सोशल मीडिया के युग में, केवल ऑनलाइन रहने के लिए, लेखक विपणन चालों को सीखने की आवश्यकता का अनुभव करते हैं। वैसे लेखक भी जो अपने आप को परंपरागत मानते हैं, यह जानने की चेष्टा कर चुके हैं कि सोशल मीडिया पर उपस्थिति उनके कैरियर के साथ क्या कर सकती है।

तथापि, अधिकांश लेखक जागरूकता निर्माण और ब्रैंडिंग पर अधिक ध्यानकेंद्रण करते हैं परंतु एक महत्वपूर्ण पहलू को भूल जाते हैं: अपने पाठकों को ब्रैंड मत प्रचारक बनाना।

अपने पाठकों को ब्रैंड मत प्रचारकों में बदलना महत्वपूरण है क्योंकि यह सार्थक रूप से आपकी कृतियों की सहायता करता है। अपने सभी पाठकों को मौखिक प्रचार-प्रसार करने के लिए अप्रत्यक्ष  भूमिका निभाने के लिए प्रवृत्त करना प्रारंभिक धक्के के बाद अपने पुस्तक विपणन अभियानों को ऑटोपायलट पर रखना है।  परंतु आप बिंदु A से बिंदु B तक कैसे जाते हैं? अपने पाठकों को ब्रैंड मत प्रचारकों में कैसे बदलते हैं? यहाँ कुछ उपाय दिए गए हैं:

हमेशा अपने पाठकों को कोई चर्चा करने के लिए कोई चीज दीजिए

यदि आपके पाठक आपकी कृतियों का प्रचार-प्रसार करने जा रहे हैं, तब आपको उन्हें साथ काम करने के लिए कुछ देना पड़ेगा। यदि वे आपके ब्रैंड के बारे में बातें नहीं कर सकते, यदि उनके पास इसके बारे में बातें करने के लिए या कहने के लिए कुछ भी नहीं है, तब उन्हें कोई ऐसी चीज दीजिए जिसे वे अपने मित्रों या परिचितों के साथ साझा कर सकें। इन्फोग्राफिक्स की सृष्टि कीजिए, अपनी कृतियों के संबंध में साधारण बातें लिखिए, और अपने ब्रैंड के संबंध में सभी रोचक सामग्रियाँ ढूँढ़ लीजिए। आदर्श रूप से आपको कुछ ऐसा निकालना चाहिए जो पाठकों को यह सोचने के लिए प्रेरित करे कि “मुझे इसे अपने मित्रों की सूची के साथ साझा करना है।”

यह याद रखना सबसे अच्छा है कि अपनी संरचना के द्वारा, बाजार, अनिवार्य रूप से विपणकों और दर्शकों के बीच संवाद है। आप वह अनभिज्ञ निकाय  नहीं हो सकते, जो उबाऊ  नीरस स्वर में सूचना खींच कर निकालता रहता है जिसे कोई भी सुनना नहीं चाहता। अपने पाठकों को कोई ऐसी चीज दीजिए जो उऩ्हें रोचक लगती है और ऐसी चीज दीजिए जिसे लेकर वे दूसरों से बातें करना चाहते हैं।

जिस कारण इंटरनेट (और इसके विस्तार के रूप में सोशल मीडिया) इतने व्यापक रूप से उपयोग किए जाने लगे वह यह था कि यह सामान्य रूप से थकाऊ सक्रियताओं को करने में आसान बना देता है – विषय-वस्तु ढूँढ़ने से लेकर सोशलाइजेशन तक।  इसलिए, यदि आप लोगों को प्रतिनिधि  विपणकों में बदलना चाहते हैं, तब उनके काम को आसान बनाने के लिए आपको लीक से हट कर कुछ करना पड़ेगा।  यह आपकी वेबसाइट पर “शेयर दिस” बटन  सम्मिलित करने से ले कर  उन पर लौक की गई दुःखदायी विषय-वस्तुओँ को हटाने तक।

संतुष्ट पाठकों के ब्रैंड मत प्रचारक बनने के संयोग अधिक हैं

इस मुद्दे के साथ सहज बोध है: केवल संतुष्ट ग्राहक ही अतिरिक्त प्रयास करते हुए आपके ब्रैंड का प्रचार-प्रसार करेंगे (असंतुष्ट ग्राहक या चुप रहेंगे या आपके ब्रैंड का नाम कलंकित करेंगे), परंतु ब्रैंड का मत प्रचारक बनने के लिए पर्याप्त संतुष्ट होना वह भाग है जो कई लेखकों को चकरा देता है। किसी आदर्श दुनियाँ में, केवल एक अच्छी पुस्तक लिखना पर्याप्त होना चाहिए। परंतु हम सर्वदा आदर्श वास्तविकता में नहीं रहते इसलिए आपको वह अतिरिक्त धक्का देना पड़ेगा।

निष्ठावान पाठकों को पारितोषिक या कुछ अतिरिक्त दीजिए। कुछ उदाहरणों में, उत्कृष्ट विषय-वस्तु हैं, आपके आने वाली पुस्तकों के लिए पूर्व पहुँच, पूर्वदर्शन, और यदि आपके पास इसके लिए बजट हो तो: मुफ्त उपहार और माल। विरल मामलों में, पारितोषिक वास्तव में इस अर्थ में विषय-वस्तु पर वास्तव में जीत जाते  हैं। क्योंकि यदि आप उन्हें पुरस्कार देते हैं तब पाठक आपकी कृतियों का प्रचार प्रसार करते हैं, यद्यपि उन्होंने विषयवस्तु में उतना आनंद नहीं लिया था।

Hiten Vyas is the Founder and Managing Editor of Writing Tips Oasis.

Comments