लेखक अपने सपनों को कैसे साकार कर सकते हैं

By on मार्च 20, 2017 in Self Help, लेखन युक्तियाँ

दो व्यक्ति लेखक बनना चाहते हैं। उनमें से एक आगे चल कर बहुत बड़ा लेखक बन जाता है। दूसरा प्रतीक्षा करता है। तब तक प्रतीक्षा करता है जब तक कुछ भी नहीं होता। जो लेखक बन गया था, तुलनात्मक रूप से उससे उस व्यक्ति को क्या अलग करता है जो लेखक नहीं बना था? इसमें सबसे महत्वपूर्ण बात है, लेखक बनने के सपने को ले कर और उसे कार्यान्वित कर देना। यदि आप वह व्यक्ति हैं जो इतने दिनों से सपने देख रहा है कि आप उसे याद भी नहीं करना चाहते, तब यह सीखने के लिए कि इस सपने को असली जीवन कथा कैसे बनाएँ, आगे पढ़िए।

सपने देखना नहीं रोकिए

मेरे कहने का अर्थ है सही तरह के सपने। और सही तरह के सपने में सजीव कहानियाँ जादू से प्रकट होती हैं और घेरे से बाहर निकल कर देखने वाले पात्र आपकी कल्पना में प्रकट होते हैं और इस प्रक्रिया में जादू की सृष्टि करते हैं। बढ़िया कहानी लिखने के लिए, आपको सपने देखने में सक्षम होना पड़ेगा। तथापि, वास्तव में कहानी लिखने के सपनें देखने से अधिक, वास्तविक टुकड़ों के पपने देखिए जो आपकी कहानी का निर्माण करेंगे, और जितनी जल्दी हो सकें उहें कागज पर या वर्ड प्रोसेसर पर लिख लीजिए।

कोई लक्ष्य स्थापित कीजिए

अपने लिए कोई लक्ष्य स्थापित करने, उन्हें लिख लेने, और अपने आप को कोई अंतिम तिथि देने के समान कहानी लिखने में कोई भी चीज आपकी सहायता नहीं कर सकती। नए वर्ष में कुछ ही दिन शेष हैं, अपनी अगली पुस्तक लिखने और प्रकाशित करने के लिए कोई अंतिम तिथि रखने के समान या जिस पर काम कर रहे हैं उसे समाप्त करने के समान वर्तमान के समान और कोई समय नहीं है। वास्तव में 2017 आपके लिखने के लिए सबसे अच्छा वर्ष हो सकता है।

कुछ नए मित्र बनाइए

मैं सही तरह के नए मित्रों की बात कर रहा हूँ और यह उपलब्ध करने वाले हैं; उस तरह के लेखक जो केवल सपने देखने के स्थान पर कार्यकारी बनने का निर्णय लेते हैं, और आगे बढ़ कर वह सफलता पा लेते हैं जो आप पाना चाहते हैं। ऐसे लेखक इंटरनेट पर भरे पडे हैं और अब सोशल मीडिया के माध्यम से कुछ संपर्क बनाने, उनके कुछ निबंध पढ़ने तथा पर्याप्त प्रेरित होने का समय है जिससे आप कार्यवाही करने के लिए चालित हो जाएँ।

क्या आप वास्तव में इसका संवहन कर सकते हैं?

यदि आप निरंतर सपने देख रहे हैं और दिखाने के लिए दूसरा कुछ भी नहीं है, क्या आप कोई कार्यवाही किए बिना रह सकते है और अपनी पुस्तकें लिख सकते हैं? मेरा अर्थ है कि यदि आप महान लेखक बनने की अवधारणा को पसंद करने के परिप्रेक्ष्य में रहना जारी रख सकते हैं, परंतु कभी भी कुछ महत्वपूर्ण नहीं बनते हैं, क्या वास्तव में यह एक विरासत है जिसे आप छोड़ना चाहते हैं?

कार्यवाही कभी इतनी खराब नहीं होती जितनी यह प्रतीत होती है

स्वप्न देखना एक आनंददायक सक्रियता है। इसी कारण मनुष्य इसे करना इतना पसंद करते हैं। आखिरकार सब-कुछ अच्छा गर्म और मित्रवत लगता है। कदाचित कार्यवाही कठिन प्रतीत होती है, और यह आपको इससे बचने के लिए बाध्य करती है? सत्य यह है कि आपको मार्ग में चुनौतियाँ और रुकावटें हैं। आप कई बार लड़खड़ा भी सकते हैं। तथापि अपनी पुस्तक लिख लेना और उसे प्रकाशित कर लेना एक बहुत बड़ी, सकारात्क, शिक्षाप्रद यात्रा है। आप लेखक के रूप में अपनी कुशलताएँ विकसित करेंगे, आप एक बेहतर विपणक बन जाएँगे। कार्यवाही करना कभी भी इतना खराब नहीं होता जितना यह लगता है, और जो लेखक ज्ञान अर्जित कर लेते हैं, वे वास्तव में यात्रा में आनंद देखते हैं। इसमें भाग लेने से स्वयं को वंचित नहीं कीजिए। आप नहीं लेते तो आपसे बहुत कुछ छूट जाएगा!

Hiten Vyas is the Founder and Managing Editor of eBooks India. He is also a prolific eBook writer with over 25 titles to his name.

Comments